Bikaner/Jaisalmer/ Jodhpur | बुधवार 13 मार्च की शाम को करीब आठ बजे बीकानेर जिले के बज्जू, जैसलमेर के नोख और जोधपुर के बाप क्षेत्र में इतना तेज धमाका और गड़गड़ाहट हुई कि लोगो की सिट्टी पिट्टी गुम हो गयी।

थोड़ी ही देर में सोशल मीडिया पर न्यूज़ वायरल हो गयी और लोग दहशत में आ गए। लोगो को लगा पाकिस्तान की तरफ से कोई मिसाइल या बम फेंका गया है।

लोग एक दूसरे गांवो में फोन कर जानकारी लेते रहे पर किसी को भी नहीं पता चला कि क्या हो रहा है।

करीब करीब 100 किलोमीटर के इलाके में धमाके की आवाज सुनी गई, लोगो के मकान हिल गए। बीकानेर जिले के बिकमपुर गांव में एक मकान में दरारें आने की भी सूचना है।

दरअसल धमाके की वजह वायुसेना के विमानों का युद्धाभ्यास था। सूत्रों के अनुसार तीन बड़े विमानों ने एक साथ अलग अलग जगहों पर सुपर सोनिक बूम का प्रयोग किया जिसके कारण ये धमाका हुआ।
सुपरसोनिक जेट्स ध्वनि से भी ज्यादा तेज गति से उड़ते है, हवा में उड़ते समय उनकी गति के हिसाब से शॉक वेव या तरंगे बनती है। जब किसी कारण से जेट की गति में परिवर्तन होता है तो सोनिक बूम बनता है और धमाका होता है।

हवाई पट्टी के नजदीक रहने वाले लोगो को इसका पता होता है,लेकिन किसी दूसरी जगह पर अगर ऐसा होता है तो सोनिक बूम के धमाके से निश्चित ही लोग दहशत में आ जायेंगे।

अगली बार आपको कोई विमान दिखाई दे और फिर सुपर सोनिक बूम का धमाका हो तो डरने के बजाय उसका आनंद लीजियेगा।

जानकारी अच्छी लगे तो शेयर जरूर करें। jaipurnewstoday.com के लिए दिलीप सोनी की स्पेशल रिपोर्ट।