Bikaner News| बीकानेर के जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम काफी एक्टिव रहते है और कई बार सीधे बीकानेर की गलियों में निकल जाते है और एक्शन भी लेते है।

उनकी इसी शैली के आधार पर कुछ खुराफाती तत्वों ने एक झूठी खबर बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी है।

खबर में कहा है कि बीकानेर DM ने सिक्के नहीं लेने वाले दुकानदारों पे कार्यवाही की है।

जब हमने इस खबर की सच्चाई जानने के लिये बीकानेर के वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र सेन से संपर्क किया तो पता चला कि ये खबर फेक है।

तभी हमें पता चला कि ऐसी ही एक और झूठी खबर व्हाट्सएप्प पे वायरल की जा रही है। जिसमें जयपुर शिवदासपूरा में कलेक्टर की सिक्के नहीं लेने पर कार्यवाही बताई गई है।

पढ़िये बीकानेर कलेक्टर के नाम पर झूठी खबर

बीकानेर से बड़ी खबर
सिक्का न लेने पर हुई बड़ी कार्यवाई बीकानेर कोटगेट DM ने शिकायत पर की तत्काल कार्यवाही

14 दूध की डेरिया,
6 इलेक्ट्रॉनिक की दुकांने,
18 पान की दुकाने,
16 सब्जी की दुकाने, 31 किराना की दुकाने,
8 मेडिकल की दुकान बीकानेर डीएम ने की सील। इन सभी दुकानदारो ने 1 से 10 रुपये के सिक्के लेने से मना किया था।इन सभी दुकानदारो पर *भारतीय मुद्रा का बहिस्कार अधिनियम की धारा के अंतर्गत व उपभोक्ता कानून का उलंघन करने के मामले में मुक़दमा भी दर्ज किया गया है*।अगर आप के भी शहर या कसबे में ऐसा हो रहा हो तो कृपया वीडियो या ऑडियो बना कर अपने जिले के DM या संबंधित थाने में सूचना दें ।इस तरह से भारतीय मुद्रा का बहिस्कार करने वाले पर 7 साल से 12 साल की सजा या रुपये 20,000 का जुर्माना या फिर दोनों के साथ सजा दी जा सकती है।

ये खबर सारे ग्रुप में डाल भाई ताकि सब लोग जागरूक हो जाये

🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

जयपुर न्यूज़ टुडे आप सब से अनुरोध करता है कि इस तरह के संदेश को वायरल ना करें अन्यथा आप मुसीबत में फंस सकते है।