internet shutdown

इंटरनेट का उपयोग करने वालो के लिए मुसीबत की खबर हैं,दुनिया भर में 48 घंटे के लिए इंटरनेट को बंद किया जा सकता हैं. बताया जा रहे है कि मेन सर्वर की मरम्मत के लिए इंटरनेट को बंद किया जा रहा हैं.internet shut down

इंटरनेट के बंद होने से ट्रांजेक्शन और बैंकिंग सेवाओं पे बहुत ज्यादा असर पड़ेगा,साथ ही ऑनलाइन बुकिंग करने वाली कंपनियों को भी दिक्कत का सामना करना पड़ेगा.internet down for 48 hours.

Russia Today की रिपोर्ट के मुताबिक’द इंटरनेट कॉरपोरेशन ऑफ असाइन्ड एंड नंबर्स’ (ICANN) इस अवधि के दौरान मेंटेनेंस से जुड़ा काम करेगी. ICANN क्रिप्टोग्राफिक की (key) को बदलेगी, जो कि इंटरनेट की एड्रेस बुक या डोमेन नेम सिस्टम (DNS) को प्रोटेक्ट करेगी. बताया जा रहा हैं कि साइबर अटैक की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए ऐसा करना जरूरी हो गया है. कम्युनिकेशंस रेगुलेटरी अथॉरिटी (CRA) ने कहा है कि एक सुरक्षित, स्थिर और लचीला DNS सुनिश्चित करने के लिए ग्लोबल इंटरनेट शटडाउन जरूरी है.

अगले 48 घंटों तक इंटरनेट यूजर्स को कोई वेब पेज खोलने या फिर कोई ट्रांजेक्शन करने में दिक्कत महसूस हो सकती है. वहीं जो यूजर्स आउट डेटेड आईएसपी का इस्तेमाल कर रहे हैं उन्हें भी इंटरनेट शटडाउन का सामना करना पड़ सकता है.

बता दें कि इस इंटरनेट शटडाउन का असर लगभग 36 मिलियन यानी 3.6 करोड़ लोगों पर पड़ेगा। ICANN की रिपोर्ट के मुताबिक इसका असर सिर्फ 1 फीसदी लोगों पर पड़ेगा. संस्थान ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इस शटडाउन की कुछ तैयारियां पहले ही कर ली गई हैं. फिर भी कुछ लोगों को इसका असर पड़ेगा.