Jaisalmer News: राजस्थान में एक कहावत है “सिर साठे रूंख रहे तो भी सस्तो जाण” जोधपुर के खेजड़ली में लोगो ने पेड़ो को बचाने के लिए सिर कटवा दिए थे। दूसरी और जैसलमेर नगरपरिषद है जिसने 1000 पेड़ो पर जेसीबी चलवा दी।

आपको बता दें कि ये पेड़ ‪‪अगस्त 2013 में जैसलमेर के गड़सीसर तालाब पर I Love Jaisalmer की टीम के सदस्यों ने पौधारोपण कार्यक्रम के तहत लगाए थे।

उसके बाद लगातार पौधारोपण व पहले से लगे हुए पौधों की देखभाल के बाद ये पेड़ अब फलने लगे थे। इन मे कुछ पेड़ो की ऊंचाई तो 6 से 7 फ़ीट तक हो चुकी थी।

मगर रविवार को इन पेड़ों पर नगर परिषद ने जेसीबी चला दी।‬ पेड़ो पर जेसीबी चलाने से पर्यावरण प्रेमी लोगो मे बड़ा रोष है। बताया जा रहा है कि पेड़ो को हटा कर यंहा सड़क बनाई जाएगी।

Jaisalmer gadisar tree
जैसलमेर के गड़ीसर तालाब की पाल पे लगे पेड़ो का पुराना दृश्य

जैसलमेर के सुरेंद्र सिंह राठौड़ अपना विरोध जताते हुवे कहते है कि “पता नहीं क्या सोच है प्रशासन की। मुझे तो लगता है कोई सोच है ही नहीं। गड़सीसर तालाब की कलात्मक बंगलियाँ गिरने की हालत में हैं। और ये यहाँ जेसीबी की खुदाई खेल रहे हैं। इन पेड़ों में पानी के साथ लोगों का पसीना भी सींचा हुआ था। आप बरसों की मेहनत को ऐसे पल भर में कैसे उजाड़ सकते हैं?”

वंही पेड़ो की हत्या से नाराज युवा आंदोलन की तैयारी कर रहा है। i love jaisalmer टीम के उपाध्यक्ष की तरफ से सोशल मीडिया में एक मैसेज भेजा जा रहा है।

मैसेज में उपाध्यक्ष विमल गोपा की तरफ से संदेश है कि वर्षों की मेहनत 1000 पोधो का बलिदान व्यर्थ नही जाएगा ,
नगर परिषद आयुक्त सुखराम खोखर पर मुकदमा दर्ज कर निलंबित करने की मांग करेंगे।