Jaisalmer News: राजस्थान में आज अगर सबसे ज्यादा पेड़ो की कंही जरूरत है तो जैसलमेर जिले में है। 50 डिग्री तापमान और रेतीले धोरो वाले जैसलमेर से ज्यादा पेड़ो की कीमत कोई और क्या समझेगा। मगर पिछले दो दिन से यंहा हालात बदले हुवे है।

यंहा का जिला कलेक्टर पेड़ लगाने की बात कहता है और नगर परिषद आयुक्त सुखराम खोखर ने बड़ी बेशर्मी से 1000 से अधिक पेड़ो पर जेसीबी चला दी।

पढ़े : जैसलमेर नगर परिषद 1000 पेड़ो की हत्यारी

तब तो बेशर्मी की हद हो गयी जब आयुक्त ने कह दिया कि पेड़ काटे है और लगा देंगे। ना माफी मांगेंगे ना शर्मिंदा है। मुकदमा करवा दो जो सजा होगी भुगत लूंगा।

सोमवार को जैसलमेर के पूर्व विधायक सांगसिंह भाटी, प्रधान अमरदीन फ़क़ीर समेत आयुक्त कार्यालय पहूंचे पर्यावरण प्रेमियों को आयुक्त ने बड़े बेआबरू करके निकाला।

हालांकि नगर परिषद की सभापति कविता खत्री ने जरूर गलती मानी और आयुक्त से भी कहा कि माफी मांग ले और नए पेड़ लगा दे।

परन्तु आयुक्त खोखर ने कहा जनप्रतिनिधि माफी मांग सकते है,मैं नहीं मांगूगा।

वंही दूसरी और जिला कलेक्टर लोगो से पेड़ लगाने की गुहार कर रहे है।

जैसलमेर ज़िला कलेक्टर नमित मेहता ने लोगो से अपील की है कि पर्यावरण की रक्षा करें। एक पेड़ और एक परिंडा लगाए। प्यासे पक्षी और पशुओं के लिए छाया और पानी की व्यवस्था करें।

जिला कलेक्टर ने आमजन से पर्यावरण की रक्षा के लिए आगे आने को कहा है,इसी के तहत बुधवार को 100 परिंडे लगाए जाएंगे।