Jaipur / Jaisalmer / Bikaner News: बीकानेर और जैसलमेर में टिकट वितरण काे लेकर दोनों जिलों के कांग्रेस नेता हैरान हैं क्याेंकि डाॅ.बी.डी.कल्ला और सालेह माेहम्मद दोनों मंत्रियों के बीच ऐसी सेटिंग हो गई है कि किसी भी बैठक में दोनों एक दुसरे की प्रत्येक बात का हुंकारा कर समर्थन कर रहे है.

दोनों नेता मंत्री है और एक दुसरे के जिलों के प्रभारी हैं. दाेनाें नेताओं के बीच ऐसी समझ बैठ गई है कि बाकी नेता हैरान परेशान हैं, क्याेंकि बैठकाें में दाेनाें मंत्री एक-दूसरे की मर्जी का ध्यान रख रहे हैं. चूंकि दाेनाें मंत्री हैं इसलिए बाकी नेता खुलकर बाेल नहीं पा रहे हैं.

हालांकि कांग्रेस सोमवार को कभी भी निकाय चुनाव के उम्मीदवारों की सूची जारी कर सकती है, जैसलमेर में 30 कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची तैयार है और 15 पे उलझन बनी हुई है. जबकि बीकानेर के 19 वार्डाें में पेंच ऐसा फंसा है जिसकाे लेकर नेताओं में मतभेद बढ़ते जा रहे हैं.

पीसीसी बैठक के बाद जब बीकानेर के नेता सचिन पायलट से मिले ताे उन्हाेंने कहा कि आपस में तय करके टिकट बांटे, मगर सालेह मोहम्मद और डा. बी.डी.कल्ला के सामने बीकानेर और जैसलमेर के कांग्रेस नेताओ रुपाराम मेघवाल, भरतराम मेघवाल, रेहाना रेहाज, मदन मेघवाल, यशपाल गहलाेत की नहीं चल रही है.

सीएम अशोक गहलोत को इन दोनों नेताओं ने विश्वास में ले रखा है और निकाय से लेकर पंचायत चुनाव तक दोनों जिलों में कांग्रेस की जीत की पूरी जिम्मेवारी गहलोत ने इन दोनों नेताओं के कंधों पर ड़ाल रखी है.

दुसरे छुटभैये नेताओं को गहलोत ने साफ़ कह दिया है कि निकाय चुनाव में पार्टी के घोषित उमीदवार को जिताने में सहयोग करने वालों की रिपोर्ट के आधार पर निकाय चुनाव के बाद राजनैतिक नियुक्तियों में प्राथमिकता दी जायेगी.

Source:The Jaisalmer News