पंचायत चुनाव में भाजपा के कर्ज माफी,बेरोजगारी भत्ता और कानून व्यवस्था होंगे चुनावी मुद्दे


Jaipur News – अगले माह से होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) का रण फतह करने के लिए भाजपा तैयारियों में जुट गई है। इन चुनावों में किसानों की कर्ज माफी, बेरोजगारी भत्ता और कानून व्यवस्था बड़े मुद्दे होंगे, जिनके आधार पर सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार को घेरने की रणनीति बनाई है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ.सतीश पूनिया (Dr. Satish Poonia) ने पंचायत चुनाव को लेकर कहा कि हर चुनाव बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि नब्बे के दशक बाद पंचायतीराज में भाजपा की उपस्थिति अच्छी रही है। पर इन चुनावों में जिस पार्टी की सरकार रहती है,उसे प्रत्यक्ष लाभ मिलता है। पर कांग्रेस सरकार नागरिकता संशोधन कानून से डरी हुई है। इसकी वजह से सरपंचों के चुनाव पहले करवा रही है,जबकि ऐसा नहीं होता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के मन में इन चुनावों को लेकर भय है।

उन्होंने आशंका भी जताई है कि सरकार सरकारी अधिकारी कर्मचारियों के माध्यम से सरपंचों को प्रताडि़त कर जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों की संख्या बढ़ाने की फिराक में है। इसलिए हमारी तैयारी पूरी है। संभाग और जिला स्तर प्रभारी और समन्वयक नियुक्त कर दिए हैं। वहीं सरकार को घेरने के लिए इनके प्रमुख वादे जिसमें किसानों की कर्ज माफी का वादा किया वो पूरा नहीं किया।

युवाओं को बेरोजगारी भत्ता नहीं दिया जा रहा और कानून व्यवस्था की स्थिति प्रदेश में बुरी तरह बिगड़ी हुई है। ऐसे में इन तीन बड़े मुद्दों के साथ प्राकृतिक आपदा  से भी जनता में सरकार के खिलाफ आक्रोश है। उन्होंने कहा कि भाजपा हर स्थिति में कांग्रेस को मुकाबला करेगी।



News Source