सीकर शहर के तिलक नगर में फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाली शिल्पा सोनी के मामले में गिरफ्तारी की मांग को लेकर श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज श्रीडूंगरगढ़ के लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है।
Edited by Dilip Soni

श्रीडूंगरगढ़/बीकानेर :- सीकर शहर के तिलक नगर में फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाली शिल्पा सोनी के मामले में गिरफ्तारी की मांग को लेकर श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज श्रीडूंगरगढ़ के लोगों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा है।

ज्ञापन में दहेज प्रताडऩा में शामिल बाकी आरोपियों को भी गिरफ्तार करने की मांग की गई है। श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार संघ श्रीडूंगरगढ़ के बैनर तले सौंपे गए ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि शिल्पा सोनी के साथ अन्याय करने वालों को दंडित किया जाए। श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार संघ श्रीडूंगरगढ़ के अध्यक्ष बाबूलाल सोनी का कहना था कि कलकत्ता निवासी शिल्पा का विवाह 2016 में राहुल सोनी के साथ हुआ था।

आरोप हैं कि विवाह के बाद उसके पति, सास, ननद ने दहेज की मांग को लेकर उसके साथ क्रूरतापूर्ण व्यवहार किया शुरू कर दिया था। मारपीट कर उसे भूखा प्यासा रखा जाता था। जिससे परेशान होकर उसने 13 अक्टूबर को फांसी लगा ली। जबकि उसके आठ माह का बेटा भी है। एेसे में पुलिस द्वारा मामले में ढि़लाई बरती जा रही है। जबकि शिल्पा के दोषी बाकी लोगों को भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

ज्ञापन के दौरान इंदरचंद भामा ,मांगीलाल मौसूण,मोहनलाल सोनी ,पूनमचंद कडेल ,विक्रम सोनी ,राजेश सोनी ,सीताराम मौसूण,राजेश ढल्ला,श्रवण सहदेवडा ,संतलाल सोनी आदि मौजूद रहे। घटना के बाद पीहर पक्ष की ओर से दहेज प्रताडऩा का मुकदमा दर्ज कराने के बाद पुलिस ने उसके पति राहुल को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी की गिरफ्तारी के लिए अनुसंधान जारी है।

शिल्पा का परिवार मूलत: रामगढ़ सेठान के निवासी हैं और हाल कोलकाता में रहते हैं। पुलिस ने बताया कि पति-पत्नी  के बीच कोई झगड़े का मामला लग रहा है लेकिन मृतका के कमरे से लिखित में कुछ नहीं मिला है।

शिल्पा ने मरने से पहले माँ को Whatsapp पर भेजा था संदेश 

शिल्पा सोनी सीकर
फोटो -राजस्थान पत्रिका से साभार

मां…मेरे बच्चे गर्वित को अब मेरे ससुराल वालों को कभी मत देना। यही मेरी आखिरी इच्छा है। आप रखना चाहो तो रख लेना, वरना किसी आश्रम में छोड़ देना। प्लीज…। शिल्पा ने 13 अक्टूबर को मौत से पहले दोपहर 11.54 बजे कोलकाता में अपनी मां सुनीता के मोबाइल पर यह वाट्सएप संदेश भेजा था। इसके बाद शिल्पा ने फांसी लगाकर जान दे दी।