Why did Pratap Puri Ji decide to contest elections from Pokaran?
           

जैसलमेर जिले की पोकरण विधानसभा सीट से बीजेपी के प्रत्याशी प्रतापपुरी महाराज की जीत होती दिखाई दे रही हैं. सभी एग्जिट पोल और सट्टा बाजार भी पोकरण से प्रतापपुरी महाराज की जीत मानकर चल रहे हैं. यंहा सात दिंसबर को 87.43 प्रतिशत मतदान हुवा जो राजस्थान में सबसे ज्यादा हैं.

आपको बता दें कि इस चुनाव में पोकरण सीट बहुत ही हॉट सीट बन गयी थी ,यंहा पर तारातरा मठ के महंत प्रतापपुरी महाराज और मुस्लिम धर्मगुरु गाजी फ़क़ीर के उत्तराधिकारी सालेह मोहम्मद के बीच सीधा मुकाबला था. बीजेपी ने यंहा हिन्दू मुस्लिम कार्ड खेलकर ध्रुवीकरण की कोशिश की थी वंही कांग्रेस ने मेघवाल मुस्लिम गठबंधन कर ध्रुवीकरण को रोकने की कोशिश की थी. कल 11 दिसंबर को आने वाले चुनाव नतीजे में स्पष्ट हो जाएगा कि कौन कामयाब रहा.

राजनीतिक विश्लेषक अपनी गुना भाग करने के बाद मान रहे हैं कि यंहा
170457 कुल वोट पड़े जिसमें से कांग्रेस के प्रत्याशी सालेह मोहम्मद को 65000 से लेकर 75000 तक वोट  मिल सकते हैं वंही बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी तुलछाराम को 3 से 5 हजार तक वोट मिल सकते हैं. वंही बीजेपी प्रत्याशी प्रतापपुरी महाराज करीब 90000 से ज्यादा वोट लेकर विजयी होंगे. प्रतापपुरी महाराज की जीत 11000 से लेकर 21000 तक की हो सकती है.

बहरहाल प्रत्याशियों और उनके समर्थकों की साँसे रुकी हुई हैं सभी बेसब्री से मंगलवार को आने वाले नतीजों के बारें में सोच रहे हैं.वंही दिसंबर की सर्द हवाओं के बीच चर्चाओं का बाजार गर्म हैं .

ये भी पढ़ें :