Rajasthan Sakrar News

जयपुर, । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अवगत कराया है कि राज्य सरकार समय पर ऋण चुकाने वाले गुड बॉरोअर्स यानी सद्भावी किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए विशेष पैकेज लाने पर विचार कर रही है। गहलोत ने आग्रह किया है कि केन्द्र सरकार भी सद्भावी किसानों के लिए विशेष पैकेज लाए ताकि समय पर ऋण चुकाने की प्रवृत्ति को प्रोत्साहन मिल सके। 

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को पत्र में लिखा है कि राजस्थान में वर्षा की अनिश्चितता और विषम भौगोलिक परिस्थितियों के कारण किसानों को कई बार उचित पैदावार नहीं मिलती। साथ ही, फसल का उचित मूल्य नहीं मिलने के कारण आर्थिक संकट के चलते उनके लिए ऋण चुकाना कठिन हो जाता है। 

गहलोत ने लिखा है कि किसानों को ऎसी स्थिति से राहत दिलाने के लिए राज्य सरकार ने सहकारी बैंकों के ऋणी किसानों का निर्धारित पात्रतानुसार समस्त बकाया अल्पकालीन फसली ऋण माफ करने का निर्णय लिया है।  इसके साथ ही, आर्थिक रूप से संकटग्रस्त किसानों के राष्ट्रीयकृत, अनुसूचित एवं क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक से लिए गए दो लाख रुपए तक के अल्पकालीन फसली ऋण, जो एनपीए हो चुके हैं, उन्हें भी माफ करने का निर्णय लिया गया है। 

मुख्यमंत्री ने हाल ही राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के जवाब में विधानसभा में कहा था कि आर्थिक रूप से संकटग्रस्त ऋणी किसानों को राहत प्रदान करने के साथ-साथ राज्य सरकार समय पर ऋण चुकाने वाले किसानों को प्रोत्साहित करने का विचार रखती है और ऎसे सद्भावी किसानों के लिए राज्य में विशेष पैकेज लाया जाएगा। इस संबंध में अन्य राज्यों में लागू की गई योजनाओं का विस्तृत अध्ययन किया जाएगा। उन्होंने कहा था कि राजस्थान सरकार प्रयास करेगी कि हमारा पैकेज इन राज्यों से अच्छा और किसानों के हित में हो।