Jaisalmer news | जैसलमेर जिले के नाचना में चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवाने गए व्यापारियों को सीआई ने ‘गेटआउट’ कर दिया। जिससे नाराज व्यापारी नाचना डिप्टी कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए।

दरअसल नाचना में पिछले एक महीने से घरों और दुकानों में चोरियों का सिलसिला जारी है पुलिस ना तो चोरों को पकड़ने में कामयाब हो पाई और ना ही पुलिस के द्वारा समय पर गस्त की जाती है।

बुधवार रात्रि को नाचना बस स्टैंड पर स्थित खेमचंद चांडक की किराना की दुकान पर किराना की दुकान के ताले तोड़कर चोरों ने वारदात को अंजाम दिया।

जिससे नाराज नाचना व्यापार मंडल के व्यापारियों ने अध्यक्ष जगदीश प्रसाद के नेतृत्व में नाचना थाने में जाकर चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवाने का प्रयास किया।

नाचना थानाधिकारी सीआई सहीराम बिश्नोई पूरी तरह से नशे में थे उन्होंने शराब के नशे में व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों को गालियां निकाली और थाने से गेट आउट कर दिया।

उन्होंने रिपोर्ट लेने से मना कर दिया और कहा कि मेरा ट्रांसफर करवा दो। इससे नाराज व्यापारी नाचना डिप्टी कार्यालय के सामने टेंट लगाकर धरने पर बैठ गए।

पूरे दिन नाचना का बाजार बंद रहा। दोपहर करीब 2:00 बजे नाचना डिप्टी सुगन चंद पंवार ने धरना समाप्त करने को कहा व्यापारी नहीं माने।

जैसलमेर एसपी किरण कंग ने व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों से फोन द्वारा बात की और पोकरण डिप्टी मोटाराम चौधरी मोहनगढ़ थाना अधिकारी अमर सिंह को नाचना भेज कर पूरे मामले की जांच करने को कहा।

नाचना सीआई सहीराम बिश्नोई का मेडिकल टेस्ट करवाया गया मेडिकल टेस्ट में सीआई के शराब पिए होने की पुष्टि हुई। जैसलमेर एसपी किरन कंग ने नाचना थानाधिकारी सहीराम बिश्नोई को गलत आचरण का दोषी पाए जाने पर निलंबित कर उसकी जगह घेवरचंद को नाचना थानाधिकारी के पद पे नियुक्त किया हैं.

उसके बाद मोटाराम चौधरी और अमर सिंह ने धरना स्थल पर जाकर व्यापार मंडल प्रतिनिधियों से बातचीत की और उन्हें धरना उठाने के लिए राजी किया।

व्यापारियों ने मांग रखी की सीआई सहीराम बिश्नोई का तुरंत तबादला किया जाए और नाचना में चोरी के सभी मामलों का अनुसंधान कर तुरंत चोरों को पकड़ा जाए पुलिस ने मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया है।