fake madarsa rajasthan

जयपुर : अल्पसंख्यक मामलात विभाग ने मदरसों पर कड़ी कार्यवाही की मंशा बना ली हैं, मदरसों में छात्र संख्या, केशबुक, स्टॉक और अध्यापक उपस्थिति रजिस्टर में गड़बड़ी की लगातार मिल रही शिकायतों के बाद विभाग हरकत में आया है. अल्पसंख्यक मामलात विभाग ने जयपुर के सभी साढ़े तीन सौ मदरसों का रिकॉर्ड तलब कर शुरुआत कर दी हैं .

सूत्रों के अनुसार प्रदेश में कई मदरसे सिर्फ कागजों में ही चल रहे हैं तो कई मदरसों में फर्जी नामांकन दिखाकर सरकारी राशि को चूना लगाया जा रहा हैं. अधिकांश मदरसों में रिकॉर्ड या तो उपलब्ध नहीं है, या फिर उपलब्ध रिकॉर्ड अपडेट नहीं है. रिकॉर्ड मांगते ही मदरसा संचालकों में खलबली मच गई है. 

बताया जा रहा है कि कई मदरसों में छात्रों व शिक्षकों की संख्या को लेकर जबरदस्त घपला है.स्थिति यह है कि कई जिलों में मदरसे केवल कागजों में चल रहे हैं.मदरसा आधुनिकीकरण योजना में भी कई मदरसे ऐसे हैं जो फर्जी तरीके से कागजों में चल रहे हैं. छात्र संख्या भी कई मदरसों ने बढ़ा-चढ़ाकर दिखा रखी है .

ये भी पढ़ें :