harveer saharan murder case
           

Hanumangarh News/ हनुमानगढ़ में स्थित रावतसर पालिकाध्यक्ष नीलम सहारण के पति हरवीर सहारण की एक हमलावर ने रावतसर उपखंड कार्यालय में ही गोली मारकर हत्या कर दी हैं .

सोमवार दोपहर 12 बजे हरवीर सहारण किसी काम से रावतसर उपखंड कार्यालय में आया हुवा था,तभी अचानक से एक व्यक्ति ने उस पर फायरिंग शुरू कर दी जिससे हरवीर सहारण नीचे गिर गया.हमलावर ने हरवीर सहारण पर करीब आधा दर्जन गोलियां बरसाई.

फायरिंग के बाद हमलावर मौके से फरार हो गया और रावतसर एसडीएम कोर्ट में अफरा तफरी मच गयी,घायल हरवीर सहारण को हनुमानगढ़ के जिला अस्पताल ले जाया गया जंहा इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी .

बताया जा रहा हैं कि हमलवार अपने साथियों के साथ कार में बैठकर आया था और हमला करने के बाद कार से फरार हो गया .

दोहरे हत्याकांड में आरोपी था हरवीर सहारण

हरवीर सहारण पर लीलाधर सोनी हत्याकांड तथा प्रेम कालीरावण हत्याकांड में मुकदमा चल रहा था करीब 16 साल पहले  इन दोनो की हत्या हरवीर सहारण ने अपने साथियों के साथ मिलकर की थी .कई दिन न्यायिक अभिरक्षा ने रहने के बाद हाल ही में हरवीर सहारण जमानत पे बाहर आया था .

हरवीर की मौत के बाद उसके समर्थकों की भारी भीड़ जमा हो गयी जिसको देखते हुवे पुलिस ने जाब्ता तैनात किया हैं और हमलावरों की तलाश में नाकाबंदी की गयी हैं और तलाश जारी हैं .

मंत्री रामप्रताप ने भी किया हरवीर सहारण का इलाज सीपीआर देकर की जान बचाने की कोशिश

कार्यक्रम में आये हुवे मंत्री डॉ.रामप्रताप घटना की जानकारी मिलने के बाद शिलान्यास कार्यक्रम को छोड़कर सीधे अस्पताल पहुंचे. उन्होंने वहां पहुंचकर अपने डॉक्टर होने का फर्ज निभाते हुए सहारन को सीपीआर दी लेकिन फिर भी वो उसे बचा नहीं पाए.

ये भी पढ़ें :