जैसलमेर जिले में स्थापित विंडमिल में चोरियो पर अंकुश लगाने एवं चोरियो का पर्दाफाश करने हेतु जिला पुलिस अधीक्षक, जैसलमेर डॉ. किरण कंग के आदेशानुसार विण्ड मिल संयंत्रों में चोरी के आरोपियों की गिरफ्तारी करने हेतु चलाये जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्यवाही करते हुए थानाधिकारी पुलिस थाना सदर जैसलमेर कान्तासिंह ढिल्लों ने बताया की हैड कानि शैलाराम, उगाराम व कानि. पपूराम, पाबूराम, उषा यादव की एक टीम गठित कर गिरफ्तारी के प्रयास किये गये।

जिस पर मुखबिर की सूचना पर आरोपी हिस्ट्रीशीटर श्रवण कुमार पुत्र हरदासराम जाति मेघवाल निवासी रतरेडी जिला बाड़मेर को गांव रतरेड़ी से गिरफ्तार किया गया। हिस्ट्रीशीटर श्रवण कुमार के खिलाफ पूर्व में 16 मुकदमें दर्ज हैं तथा पुलिस थाना गिराब बाड़मेर का हिस्ट्रीशीटर हैं। जिसने अब तक सदर थाना की तीन वारदाते करना बताया हैं। जिससे पूछताछ में ओर भी चोरी की वारदात में शरीक हो सकता है।

हिस्ट्रीशीटर गोरधनसिंह गैंग का साथी रहा है आरोपी श्रवण कुमार पूर्व में पुलिस थाना झिझनियाली के हिस्ट्रीशीटर गोरधनसिंह गैंग का साथी रहा है, जब इनके आपस में रूपयों के लेन देन होने से श्रवण कुमार व गोरधनसिंह से अलग होकर जिला बाड़मेर व जैसलमेर में क्षेत्र में चोरी वारदात करने लगे।

आरोपी हिस्ट्रीशीटर श्रवण कुमार के खिलाफ गुजरात से लुट के मामले में फरार है हिस्ट्रीशीटर इसी दौरान हिस्ट्रीशीटर श्रवण कुमार गुजरात के भुज क्षेत्र में वर्ष 2016 के लूट के मामले में फरार चल रहा हैं। हिस्ट्रीशीटर श्रवण कुमार द्वारा हरियाणा में वारदात करना पाया गया हैं।हिस्ट्रीशीटर श्रवण कुमार कई न्यायालयों व थानों में वान्टेट हैं।