Rajasthan News Bulletin: पढ़िए शुक्रवार- 31 मई 2019 की प्रमुख खबरें.

हनुमान बेनीवाल को मोदी सरकार में मंत्री नहीं बनाने से नाराज है समर्थक

लोकसभा चुनाव में बीजेपी के सहयोगी राजस्थान के जाट नेता हनुमान बेनीवाल को मोदी सरकार के मंत्रीमंडल में जगह नहीं मिलने से उनके समर्थक नाराज है . सोशल मीडिया पर हनुमान बेनीवाल के समर्थक इस बात को लेकर चर्चा कर रहे है कि रालोपा के अध्यक्ष की वजह से जाट समाज के वोट बीजेपी को मिले ,मगर संघ के दबाव के चलते उन्हें मंत्री बनाने से रोका गया.

बताया जा रहा है कि 23 मई को परिणाम आने के बाद से ही हनुमान बेनीवाल मंत्री बनने के लिए लोबिंग कर रहे थे, मगर उन्हें अभी मौका नहीं दिया गया है उनके स्थान पर कैलाश चौधरी को जाट समाज से मंत्री बनाया गया है. बताया जा रहा है इसी वजह से हनुमान बेनीवाल नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण में भी नहीं गए थे.

राज्यवर्धन सिंह राठौड को इसलिए नहीं मिला मंत्री पद

राजनीति के जानकारों को सर्वाधिक आश्चर्य युवा चेहरे राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिलने से हुआ है। पूर्व ओलम्पियन की ख्याति राजनीति में आने से पहले ही रही है। उनका कार्यकाल भी करीब बेदाग ही रहा है। उन्हें फिलहाल मंत्रिमंडल में शामिल न करने का निर्णय संभवत: पार्टी की विशेष योजना का हिस्सा माना जा रहा है।

राजनीति के जानकारों की मानें तो पार्टी राठौड़ को संगठन में अहम जिम्मेदारी देना चाहती है, इसी वजह से उन्हें मंत्रिमंडल से बाहर रखा गया है। कहा जा रहा है कि पूरे 5 साल तक सोशल मीडिया से लेकर ग्राउंड तक पूरी तरह सक्रीय रहने वाले राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को राजस्थान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बनाया जा सकता है। कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट युवा हैं। ऐसे में भाजपा के युवा चेहरे राज्यवर्धन राठौड़ को प्रदेश में पार्टी की कमान सौंपे जाने की बात को बल मिलता है।

इससे पहले उपचुनावों में हार के बाद भाजपा गजेंद्र सिंह शेखावत को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बनाना चाहती थी, लेकिन कुछ बड़े नेताओं की ओर से उनका विरोध करने के कारण ऐसा नहीं हो पाया था। अब गजेंद्र सिंह शेखावत को केबिनेट मंत्री बनाया जा चुका है। वहीं पार्टी के वे बड़े नेता हाशिए पर हैं। ऐसे में पीएम मोदी और अमित शाह के चहेते राज्यवर्धन राठौड़ राजस्थान BJP के अगले प्रदेश अध्यक्ष हो सकते हैं।

पीएम मोदी को लेकर राज्यवर्धन राठौड़ ने किया खास ट्वीट

राजस्थान के जयपुर ग्रामीण सीट से सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने इन ट्वीट के जरिए पुरानी यादों का जिक्र किया है। राठौड़ ने अपने ट्वीट में लिखा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल के सदस्य के रूप में सेवा करना बड़े सौभाग्य और सम्मान की बात थी। उनके साथ बिताया गया हर एक पल उनकी दृष्टि, ऊर्जा और हमारे महान राष्ट्र के प्रति उनकी प्रतिबद्धता का प्रमाण था। पीएम मोदी को मेरा आभार। जय हिंद।”

जोधपुर के सांसद गजेंद्र सिंह शेखावत को नवगठित जल शक्ति मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया है। बीकानेर के सांसद अर्जुन मेघवाल को संसदीय मामलों, भारी उद्योग व पब्लिक एंटरप्राइजेज में राज्यमंत्री तथा बाड़मेर से सांसद कैलाश चौधरी को कृषि तथा किसान कल्याण राज्यमंत्री बनाया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव के दौरान राजस्थान में एक रैली में इस मंत्रालय के गठन की घोषणा की थी। 

गजेंद्र सिंह शेखावत को मोदी सरकार में जल शक्ति मंत्रालय का जिम्मा

मंत्रालय मिलने के बाद गजेंद्र सिंह ने कहा, राजस्थान में पीने का पानी, सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध करवाएंगे। गंगा सफाई काम तेज गति से चल रहा है तथा बचा काम जल्द पूरा करवाएंगे। उल्लेखनीय है कि नरेंद्र मोदी सरकार में राजस्थान से तीन सांसदों को मंत्री बनाया गया है। इसमें राजस्थान से गजेंद्र सिंह शेखावत को केबिनेट और बाड़मेर के सांसद कैलाश चौधरी तथा बीकानेर के सांसद अर्जुन मेघवाल को राज्यमंत्री बनाया गया। गुरुवार को मोदी सरकार ने शपथ ली थी।