Jaipur News(फ़िरोज़ उस्मानी)- बीजेपी को धरातल पर पतंग उड़ानी चाहिए, हवा में पतंग उड़ाने का मतलब नहीं है। ये कहना था उपमुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट का । पायलट ने पीसीसी कार्यालय पहुँचकर पतंग उड़ाई,एवं प्रदेश वासियो को मकर सक्रांति की शुभकामनाएं दी साथ ही मीडिया से रूबरू होते हुए कहा किपतंगोत्सव उमंग और उत्साव का त्यौहार है’।

इस दौरान पायलट ने भाजपा पर जमकर कटाक्ष किया।पंचायत चुनाव पर कहा कि निर्वाचन आयोग को हमने लिखा हैं कि समय पर चुनाव के लिए। पायलट ने कहा कि आज नौजवान तबका रुष्ट है, संवाद की कमी है, बहुमत के बल पर बात थोपी जा रही केन्द्र से’ कोटा मामले में डिप्टी सीएम श्री सचिन पायलट ने कहा की हम लोग गलत परंपराओं को खत्म करने की बात कर रहे हैं, जहां हम कहते हैं कि घुंघट से परहेज करना चाहिए ।

हम एक अच्छी परंपरा की बात करते हैं अगर किसी घर में नवजात की मौत होती है, और तीये या तेरहवें की परंपरा न हो, तो भी उसका दुख बांटने के लिए उसके आंसू पोंछने के लिए अगर परंपरा नहीं है।

तो हमें परंपरा डालनी चाहिए, सरकार की जिम्मेदारी होती है कि अपने मतदाताओं का दुख बांटे छोटे बच्चों की मौत लिए तीये या तेरहवीं का कोई कार्यक्रम नहीं होता, लेकिन उनके मां-बाप के आंसू पोंछने की जिम्मेदारी हम सबकी है, अगर ऐसी कोई परम्परा है तो उसे भी तोड़ना चाहिए।