saleh mohmmad -anjajna meghwal- satyaya-jaisalmer
           

जैसलमेर । अल्पसंख्यक मामलात ,वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण मंत्री शाले मोहम्मद व जिला प्रमुख अंजना मेघवाल ने जैसलमेर के मोहनगढ में छःटीब्बा एवं काणोद ग्राम सेवा सहकारी समिति के 45 किसानों को लगभग 16 लाख रुपये तथा सत्याया शिविर में 101 किसानों को 68.51 लाख रुपए राशि के मौके पर ऋणमाफी के प्रमाण-पत्र प्रदान किए।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के ऋणमाफी की जो घोषणा की थी वह आज पूरी हो रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों के हित के लिए सदैव तत्पर है एवं जो वादा करती है उसको धरातल पर लागू करती है। उन्होंने कहा कि जैसलमेर जिले की 119 ग्राम सेवा सहकारी समितियों के माध्यम से जिन किसानों ने 2 लाख रुपए तक के ऋण प्राप्त किए है उन्हें इस ऋणमाफी का लाभ मिलेगा जिससे उन्हें बहुत बड़ी राहत मिलेगी।

सालेह मोहम्मद शनिवार को सहकारी विभाग के तत्वावधान में मोहनगढ़ व सत्याया में आयोजित ऋणमाफी शिविर के दौरान ग्रामीणों को सम्बोधित कर रहे थे। समारोह की अध्यक्षता जिला प्रमुख अंजना मेघवाल ने की एवं प्रबंध निदेशक सहकारी बैंक भोलाराम सिरवी ,उप रजिस्ट्रार डॉ. राजकुमार गुप्ता ,अधिशाषी अधिकारी श्रीमती शोभा चारण ,सरपंच मोहनगढ दोस्तअली सांवरा ,उप सरपंच चन्द्रवीरसिंह भाटी ,मोहनगढ़ जीएसएस अध्यक्ष मुकन्द वासु ,छःटीम्बा जीएसएस अध्यक्ष जब्बरसिंह भाटी सहित भारी संख्या में किसान एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे।

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री ने कहा कि इस ऋणमाफी की सुविधा से जिले के लगभग 44 हजार 907 किसानों को ऋणमाफी का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने जहां पेंशन में बढौतरी की हैं वहीं बेरोजगार युवाओं का भत्ता बढा कर उन्हें एक तोहफा दिया है जिससे बुजर्गो एवं युवाओं को बहुत बड़ा लाभ मिलेगा। उन्होंने यहां पर ग्रामीणों की जनसुनवाई की एवं उनकी समस्याऍं भी सुनी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने यह भी निर्णय लिया है कि इन सभी किसानों को इनकी पात्रता के अनुसार पुनः फसली ऋण भी उपलब्ध कराए जाएगेंं।

जिला प्रमुख अंजना मेघवाल ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों ने जो वादा किया वह पूरा हो रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने जहां किसानों के 50 हजार रुपए तक के ही ऋण माफ किए थे जिसे बढा कर वर्तमान सरकार ने 2 लाख रुपये तक की ऋणमाफी की उससे जिले के हजारों किसानों को इसका लाभ मिलेगा।

प्रबंध निदेशक सिरवी एवं उप रजिस्ट्रार डॉ. गुप्ता ने कहा कि जिले में 119 ग्रामसेवा सहकारी समितियों के माध्यम से किसानों द्वारा अल्पकालीन फसली ऋण लिए गये है उन किसानों के 2 लाख रुपए तक के समस्त फसली ऋण माफ होगें। उन्होंने बताया कि जिले में 44 हजार 907 किसानों के 303,64,28000 रुपए तक के फसली ऋण माफ होगें। इन किसानों में अवधिपार तथा गैर अवधिपार सभी तरह के किसान सम्मिलित है। सत्याया शिविर के दौरान प्रबंध निदेशक ने बताया कि यहां पर 282 पात्र किसानों के 185 . 65 लाख रुपए की ऋणमाफी होगी। 

ये भी पढ़ें :