जीका वायरस राजस्थान
फोटो -गूगल से साभार
           

Jaipur News/ राजस्थान की राजधानी जयपुर में खतरनाक जीका वायरस-ZIka Virus का पहला मामला सामने आया हैं,जीका वायरस की पुष्टि होते ही चिकित्सा विभाग में हडकंप मच गया हैं.

महिला दस दिनों से बुखार से पीड़ित थी.आँखे लाल होने और घुटनों में दर्द तथा कमजोरी की शिकायत कर रही थी.महिला को इलाज के बाद अस्पताल से  छुट्टी दे दी गयी हैं.

जयपुर के शास्त्रीनगर इलाके में रहने वाली एक 86 वर्षीय वृद्धा में जीका वायरस की पुष्टि हुई हैं,एसएमएस अस्पताल के प्राचार्य डॉ. यु.एस.अग्रवाल ने बताया कि 11 सितंबर को जयपुर और पुणे दोनों जगह की गयी जांच के नमूने ने जीका वायरस पाया गया था .

उक्त महिला के जीका वायरस के चपेट में आने का कारण फ़िलहाल अज्ञात हैं,इससे पहले देश में तीन मामले जीका वायरस के आये हैं,राजस्थान में जीका वायरस का ये पहला मामला हैं.

जीका वायरस डेंगू और चिकगुनिया फ़ैलाने वाले मच्छर की प्रजाति एजिप्टी के द्वारा भी फैलाया जाता हैं,गर्भवती महिलाओं में जीका का असर बहुत खतरनाक होता हैं .

इसके अलावा जीका का संक्रमण पशुओं से मनुष्यों में तथा असुरक्षित यौन संबंधों और मुख मैथुन से भी होता हैं .

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने जीका वायरस को फैलने रोकने के लिए कुछ दिशा निर्देश जारी किये हैं,जिनमे मच्छरों से बचाव की बात कही गयी हैं .

Zika Virus की अधिक जानकारी के लिए PDF Download करें.

ये भी पढ़ें :